Thursday, May 30th, 2024

भाजपा के कई नेता जहां-जहां भाषण दे रहे हैं वहां कह रहे हैं कि हमको चार सौ सीट दे दो हम संविधान को बदल डालेंगे : प्रियंका गांधी

नई दिल्ली
कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाद्रा ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर आज आरोप लगाया कि वह देश के संविधान को बदलने की साजिश रच रही है। गांधी ने कांकेर लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत बालोद जिले में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘ भाजपा के कई नेता जहां-जहां भाषण दे रहे हैं वहां कह रहे हैं कि हमको चार सौ सीट दे दो हम संविधान को बदल डालेंगे। यह क्यों कह रहे हैं।'' उन्होंने कहा, ‘‘ एक तरफ यह छोटे नेता और उनके कई मंत्री जगह-जगह जाकर कह रहे हैं कि हम संविधान बदल देंगे दूसरी तरफ मोदी जी और उनके बड़े नेता कहते हैं कि हम संविधान को नहीं बदलेंगे। आपको क्या लगता है कि भाजपा के नेता बगैर मोदी जी की इजाजत इतनी बड़ी बात कह सकते हैं। यह पूरी साजिश है।''

प्रियंका ने लोगों से कहा, ‘‘ जिस संविधान ने आपको अधिकार दिया, आपको वोट करने का अधिकार दिया, आरक्षण दिया, जिसने आदिवासियों की संस्कृति को बचाकर रखा, दलितों को आगे बढ़ाने का काम किया, भाजपा इस संविधान को बदल कर आपके अधिकार को कमजोर करना चाहती है।'' उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी और भाजपा पर ‘‘दिखावे की राजनीति'' करने का भी आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि भाजपा के लोग मोदी जी को ताकतवर बताते हैं लेकिन उन्होंने अपनी ताकत का इस्तेमाल कभी भी लोगों की समस्याएं कम करने में नहीं किया। कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘ कल मोदी जी धूमधाम से आएंगे बड़ी-बड़ी बातें की जाएंगी, आपके सामने बड़े-बड़े वादे करेंगे जैसे पहले किए थे। आदिवासी संस्कृति की बात ही होगी लेकिन उसको बचाने का काम नहीं होगा।''

उन्होंने कहा, ‘‘ आपसे बेरोजगारी की बात नहीं करेंगे, महंगाई के बारे में बात नहीं करेंगे। आपको यही दिखाने की कोशिश होगी कि वह बहुत ताकतवर हैं। आप भरोसा करें सब कुछ ठीक हो जाएगा। मैं आपसे पूछना चाहती हूं कि क्या पिछले 10 सालों में सब कुछ ठीक हो गया। यह दिखावे की राजनीति है।'' उन्होंने कहा, ‘‘आपने इंदिरा जी (पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी) को बहुत आदर दिया। आज जब मैं उनकी पोती आपके सामने आती हूं आप मेरा सम्मान करते हैं क्योंकि उन्होंने दिखावे के लिए राजनीति नहीं की। आपके बीच आईं आपकी समस्याओं को उन्होंने समझा।''

कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘ आज इस देश में पूरी तरह से दिखावे की राजनीति चल रही है। आज तो यह स्थिति आ गई है कि नेता पूजा कर रहा है तो कैमरा होना चाहिए। इंदिरा जी भी पूजा करती थीं, लेकिन वह इसे एकांत में करती थीं। राजनीति में धर्म का इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए यह हमारी परंपरा नहीं है।'' उन्होंने कहा कि धर्म का मतलब सेवा और सत्य है और यदि नेता मंच पर खड़े होकर झूठे वादे करें तो वह धार्मिक नेता नहीं है तथा वह सत्य के पथ पर नहीं है। उन्होंने मंच से पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सरकार की भी तारीफ की और कहा कि भाजपा ने उन्हें परेशान किया और कई झूठे आरोप लगाए। प्रियंका ने इस दौरान जनता से कांकेर से कांग्रेस के प्रत्याशी बिरेश ठाकुर को वोट देने का अनुरोध किया।

 

Source : Agency

आपकी राय

5 + 10 =

पाठको की राय