Monday, April 22nd, 2024

एआई फोन: नए दौर का आरंभ, ऐप्स की आवश्यकता नहीं

स्मार्टफोन से जल्द ही ऐप गायब हो जाएंगे। मतलब आपको फोन में ऐप डाउनलोड नहीं करना होगा। साथ ही ऐप की वजह से फोन की प्राइवेसी से समझौता नहीं करना होगा। हालांकि एआई स्मार्टफोन की जल्द लॉन्चिंग होने जा रही है, जो एप्लीकेशन मुक्त होगा। इसका सीधा नुकसान ऐप प्रोवाइडर प्लेटफॉर्म जैसे गूगल प्ले स्टोर और ऐप स्टोर को होगा।

ऐप मार्केट में गूगल और ऐपल का कब्जा

बता दें कि मौजूदा वक्त में देश के करीब 95 फीसद ऐप मार्केट पर गूगल का कब्जा है, जबकि ऐपल दूसरा सबसे बड़ा ऐप प्रोवाइडर प्लेटफॉर्म है। ऐसे में अगर एआई स्मार्टफोन की लॉन्चिंग होती है, तो गूगल और ऐपल के ऐप मार्केट में दबदबे से छुट्टी हो जाएगी।

जल्द लॉन्च हो सकता है एआई स्मार्टफोन

लेटेस्ट रिपोर्ट की मानें, तो Deutsche Telekom की ओर से Brain.ai के साथ मिलकर AI स्मार्टफोन लॉन्च किया जा सकता है। इसे मोबाइल वर्ल्ड कांग्रेस 2024 में पेश किया जा सकता है।

क्या होगा खास

एआई स्मार्टफोन में एआई पावर्ड डिजिटल असिस्टेंट सपोर्ट दिया जा सकता है। एआई पावर्ड डिजिटल असिस्टेंट की मदद से यूजर्स ऐप वाले सारे काम कर पाएंगे। यह असिस्टेंट वॉइस और टेक्स्ट पर काम करेगा। मतलब आपको कमांड देना होगा। इसके बाद सारे काम हो जाएंगे।

क्या होगा फायदा

बता दें कि मौजूदा वक्त में गूगल और ऐपल दोनों की तरफ से ऐप डेवलपर्स पर चार्ज लगाया जाता है। गूगल और ऐपल की ओर से ऐप से लेनदेन पर 15 से 30 फीसद चार्ज लगाया जा रहा है। वही इस चार्ज को बढ़ाकर 50 फीसद करने की प्लानिंग हो रही हैं, लेकिन एआई मोबाइल के लॉन्च के बाद गूगल और ऐपल की छुट्टी हो सकती है।

Source : Agency

आपकी राय

12 + 6 =

पाठको की राय