Friday, February 23rd, 2024

शाम को भूलकर भी न करें ये काम, लक्ष्मी जी हो जाएंगी नाराज


कहते हैं हर काम का अपना एक समय होता है और जिसे समय की कद्र होती है वह जीवन में बहुत सफल होता है। अक्सर लोगों के पास समय की कमी रहने के कारण वे सुबह के काम शाम को करते हैं और शाम के काम रात को, लेकिन क्या आप जानते हैं कि ऐसा करने से इसका नकारात्मक प्रभाव आपके जीवन पर पड़ता है। जी हां वास्तु शास्त्र में सूर्योदय और सूर्यास्त को लेकर कुछ नियम होते हैं, विशेष रूप से शाम को कुछ काम ऐसे होते हैं जिन्हें करने से आपको हमेशा बचना चाहिए। यदि आप वास्तु के इन नियमों का पालन करते हैं तो आपके जीवन में न सिर्फ खुशहाली आएगी बल्कि आप अच्छी सेहत का भी आनंद उठा सकते हैं।

नकारात्मक शक्तियां रहती है सक्रिय
कहते हैं शाम के समय नकारात्मक शक्तियां सक्रिय रहती हैं, इसलिए इस समय घर में पूजा पाठ जरूर करना चाहिए। ऐसा करने से घर में सकारात्मकता ऊर्जा का वास होता है।

शाम को तुलसी न छुएं
रोजाना सुबह-सुबह तुलसी के पौधे में जल देना और पूजा करना बेहद शुभ होता है। तुलसी जी को लक्ष्मी जी का ही रूप माना जाता है, इसलिए जिस घर में नियम से तुलसी जी की पूजा होती है उस घर में लक्ष्मी जी की कृपा सदैव बरसती है। हालांकि शाम को तुलसी की पूजा कर सकते हैं, लेकिन भूलकर भी इस समय आप पौधे में जल न डालें।

सूर्यास्त के समय झाड़ू न लगाएं
कई लोग घर को साफ रखने के लिए शाम को भी अपने घरों में झाड़ू लगाते हैं, लेकिन सूर्यास्त के समय या उसके बाद झाड़ू लगाना बेहद अशुभ माना जाता है। इससे लक्ष्मी जी रूठ जाती हैं।

शाम को सोने से बचें
शाम के समय बिस्तर पर लेटने यह सोने से भी बचना चाहिए। घर में दीया बत्ती के समय सोना लक्ष्मी जी को नाराज करना होता है। आलसी लोगों से भी लक्ष्मीजी कोसों दूर रहती हैं।

भूलकर भी खाना न खाएं
कई लोगों की आदत होती है कि जब भूख लगती है तो वे खाना खा लेते हैं। वैसे बड़े-बड़े डॉक्टरों का भी यही मानना होता है कि समय पर भोजन करने से हमारा स्वास्थ्य अच्छा रहता है। वास्तु शास्त्र में भी खाने से जुड़े कुछ नियम है। सूर्यास्त के समय भोजन नहीं करना चाहिए, विशेष रुप से मांस मछली से आप परहेज करें।

सामर्थ्यनुसार दान करें
शाम के समय आपके दरवाजे पर कोई भिखारी आ जाए तो उसे खाली हाथ ना लौट आएं अपनी क्षमता के अनुसार के अनुसार आप कुछ ना कुछ जरूर दान करें

दरवाजा ना बंद करें
कहते हैं शाम के समय घर के मुख्य द्वार पर लक्ष्मी जी की आती है। ऐसे में यदि किसी घर का दरवाजा बंद होता है तो लक्ष्मी जी रूठ कर लौट जाती हैं। इससे पैसों की तंगी होती है और घर में कलह भी होता है।

पैसों का लेन देन
शाम के समय पैसों से जुड़ा लेन देन करने से भी आपको परहेज करना चाहिए, विशेष रूप से आप किसी को भी उधार देने से बचें। गुरुवार के दिन शाम को आप इस बात का खास ध्यान रखें।

Source : Agency

आपकी राय

11 + 3 =

पाठको की राय