Friday, February 23rd, 2024

कांग्रेस की जड़ें खोद रहे सिंधिया

ग्वालियर।
केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ग्वालियर से लेकर चंबल तक कांग्रेस को झटके पर झटका दिए जा रहे हैं। एक  के बाद एक कांग्रेस के नेताओं को भाजपा में लाकर लोकसभा चुनाव से पहले की जा रही इस राजनीतिक घेराबंदी से पूरे अंचल का सियासी माहौल गरमाया हुआ है। इस बीच अब तक पाला बदल चुके तमाम कांग्रेसियों के अलावा और भी कांग्रेस नेताओं के बीजेपी का दामन थामने की संभावनाएं जताई जा रही हैं।

लोकसभा चुनाव से पहले हाल ही ग्वालियर में कांग्रेस को एक और बड़ा झटका लगा है। अशोकनगर से यूथ कांग्रेस के उपाध्यक्ष और गुना सांसद केपी यादव के भाई अजय पाल यादव ने भाजपा का दामन थाम लिया है। उनके साथ जिला पंचायत सदस्य उनकी पत्नी भी भाजपा में आ गई हैं। बीजेपी में इनकी घर वापिसी कराई है केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने। श्री सिंधिया ने राजमाता विजयाराजे सिंधिया एयरपोर्ट टर्मिनल पर भाजपा का गमछा पहनकर अजय पाल को भाजपा की सदस्यता दिलाई।

गौरतलब है कि केन्द्रीय मंत्री सिंधिया लगातार ग्वालियर-चम्बल में सक्रिय हैं। महीने भर के भीतर अंचल के अलग-अलग जिलों में आयोजित कई कार्यक्रम में वह जनता से संवाद कर रहे हैं। साथ ही कांग्रेस को निरंतर झटके पर झटका भी दिए जा रहे हैं। बता दें कि बीते दिनों विभिन्न कार्यक्रमों के दौरान उन्होंने पांच सौ से अधिक कांग्रेस नेताओं व कार्यकर्ताओं को भाजपा में शामिल कराया था। इसी बीच गत दिवस दिल्ली से ग्वालियर पहुंचकर अजय पाल सहित पांच पार्षदों को भाजपा में लाकर कांग्रेस को बड़ा झटका दे दिया। माना जा रहा है कि केन्द्रीय मंत्री सिंधिया की इस सक्रियता से अंचल की चारों लोकसभा सीटों (ग्वालियर, मुरैना, भिंड और गुना) पर भाजपा को बड़ा लाभ मिल सकता है।

राहुल के सामने कांग्रेसी बने थे अजय
बताना मुनासिब होगा कि लगभग सवा साल पहले दिसम्बर 2022 में अजय पाल यादव ने भारत जोड़ो यात्रा में शामिल होकर राहुल गांधी के सामने कांग्रेस पार्टी की सदस्यता ली थी, जिसे उस समय भाजपा के लिए बड़े झटके के रूप में देखा गया था। साथ में सांसद केपी यादव पर भी सवाल उठे थे। लेकिन अब केन्द्रीय मंत्री सिंधिया ने अजय की भाजपा में वापसी करा दी है।
 

एक महीने में यह कांग्रेसी आए भाजपा में
: पिछले महीने 19 जनवरी को मुरैना के पूर्व विधायक राकेश मावई
: ग्वालियर-चंबल से लगभग पांच सैकड़ा कांग्रेसी हुए भाजपाई
: हाल ही में सांसद केपी यादव के भाई अजय पाल व उनकी पत्नी
: ग्वालियर नगर निगम के पांच पार्षदों ने भी थामा बीजेपी का दामन

Source : Agency

आपकी राय

8 + 14 =

पाठको की राय