Monday, April 22nd, 2024

सुबह उठते ही करें ये कार्य, हर कदम पर मिलेगी सफलता

वैदिक शास्त्र में यूं तो कई ऐसी चीजों का उल्लेख है जिसमें कुछ चीजों को करने की मनाही है, लेकिन इसके नतीजों से अंजान हम अक्सर ये गलतियां कर बैठते हैं. इसी तरह वैदिक शास्त्र में कुछ ऐसे कामों के बारे में बताया गया है जो हमें सुबह उठते ही नहीं करना चाहिये. जी हां, ऐसा करने पर घर में दरिद्रता आती है. साथ ही आप नकारत्मकता का भी शिकार हो जाते हैं. तो चलिये जानते हैं कि आखिर वो कौन से काम है, जो हमें सुबह उठते ही नहीं करना चाहिये.

सूर्योदय से पहले उठना बेहद ही शुभ माना जाता है. ऐसा करने से न केवल आपके शरीर में स्फूर्ति आती है, बल्कि आपके शरीर में सकारात्मक ऊर्जा का भी प्रवाह होता है, लेकिन सुबह उठते ही आप क्या करते हैं, शीशे पर अपना चेहरा देखते हैं, या फिर अपनी परछाईं देखते हैं, अगर आप ऐसा करते हैं तो आपको सावधान होे की जरूरत है. क्योंकि, ऐसा करने से आप अपने घर में दरिद्रता को आमंत्रण दे रहे हैं. जी हां, वास्तु शास्त्र में सुबह उठते ही इन कामों को करने की मनाही की गई है. वे काम कुछ इस प्रकार है-

शीशे में खुद को देखनाः अगर आप सुबह उठते ही बांसी मुंह लेकर शीशे में अपना चेहरा देखते हैं, तो ऐसा करना तुरंत बंद कर दें. माना जाता है कि सुबह उठते ही शीशे में अपना चेहरा नहीं देखना चाहिये. ऐसा करने से रात भर की सभी नकारात्मकता आइने से आपको प्राप्त होती है. इसके अलावा ये भी कहा जाता है कि ऐसा करने से जिंदगी में कई तरह की परेशानियां आती हैं और घर में नकारात्मक शक्तियों का प्रवेश हो जाता है. अगर आपके बेडरूम में ही शीशा लगा है तो उसकी जगह तुरंत बदल दें.

अपनी परछाईं को न देखेंः कई लोग सुबह उठते ही सूर्य के दर्शन करते हैं. अक्सर सूर्य दर्शन के दौरान लोगों को अपनी परछाईं भी दिख जाती है और उसे देख भी लेते हैं. अगर आप भी ऐसा ही करते हैं तो सावधान हो जाइये. ऐसा करना आपको भारी पड़ सकता हैं. जी हां, सुबह उठकर कभी भी अपनी परछाई नहीं देखी चाहिए. माना जाता है कि ऐसा करने से जिंदगी में नकारात्मकता हावी होने लगती है और मानसिक तनाव बढ़ जाता है. इसके दुष्प्रभाव की वजह से घर में कलह का माहौल भी बन जाता है. अगर आप सूर्य दर्शन के लिए निकल गए और अपनी परछाई पश्चिम दिशा में देख ली जबकि सूर्य पूरब से उगा है. तो इसे वास्तु के अनुसार इसे राहु का संकेत कहा जाता है. ऐसे में पश्चिम दिशा की ओर परछाई देखना बहुत ही अशुभ माना जाता है.

जूठे बर्तन देखने से बचेंः अक्सर रात में ज्यादा थक जाने के कारण लोग रात के कामों को सुबह करने के लिये छोड़ देते हैं. खासकर, बर्तन धोने का काम. जिसकी वजह से सुबह जूठे बर्तन की भरमार हो जाती है. ऐसे में सुबह उठते ही लोग, खासकर महिलायें किचन में बरतन धोने के लिये घुस जाती है और घिसना शुरू कर देती है. अगर हम आपको कहें कि सुबह उठते ही जूठे बर्तन देखने से क्या होगा तो आप ऐसा शायद दोबारा नहीं करेंगी. सुबह-सुबह जूठे बर्तन को देखना बहुत अशुभ माना जाता है. इससे जीवन में नकारात्मक ऊर्जा हावी हो जाती है. जूठे बर्तन देखने से आपका पूरा दिन खराब जा सकता है. बनते-बनते काम बिगड़ जाते हैं. इसलिये ऐसा करने से बचें. अगर रात में आप बरतन नहीं धो पाती हैं तो उसे कहीं ऐसी जगह रखें जहां सुबह उठते ही आपकी नजर न पड़े.

हिंसक जानवर की तस्वीर देखनाः कई घरों में हिंसक पशु या जंगली जानवरों की पेंटिंग लगी हुई होती है, जिस पर सुबह उठते ही घर में रहने वाले लोगों की नजर पड़ जाती है. यदि सुबह उठते ही गाय दिख जाए तो ये बहुत शुभ माना जाता है, लेकिन शास्त्रों के अनुसार सुबह की पहली नजर किसी हिंसक जानवर की तस्वीर पर नहीं पड़नी चाहिए. माना जाता है कि सुबह उठते ही किसी हिंसक जानवर की तस्वीर देखने से रिश्तों में दूरियां आने लगती है. साथी ही कार्य स्थल पर विवाद हो सकता है.

Source : Agency

आपकी राय

7 + 12 =

पाठको की राय