Wednesday, July 24th, 2024

आतंकी फैजान शेख को भेजा जेल, एटीएस फैजान को खंडवा लेकर आई, फिर घर ले जाकर तलाशी के बाद मेडिकल कराया

 खंडवा

इंडियन मुजाहिदीन के आतंकी फैजान शेख को जेल भेज दिया गया है. इससे पहले एटीएस की टीम फैजान को खंडवा लेकर आई. फिर घर ले जाकर तलाशी के बाद उसे मेडिकल चेकअप के लिए जिला अस्पताल लाया गया. इसके बाद फैजान को विशेष न्यायाधीश एडीजे मनोज कुमार मंडलोई की कोर्ट में पेश किया गया. जहां से उसे जेल भेजने के आदेश दिए गए. इस पूरी कार्रवाई के दौरान फैजान का मुंह ढंका हुआ था और दोनों हाथ हथकड़ी से बंधे हुए थे. सशस्त्र पुलिस जवानों के कड़े पहरे के बावज़ूद वह मीडिया के सामने दो उंगलियों से विक्ट्री साइन ऐसे दिखा रहा था कि मानो उसने कोई बड़ी कामयाबी हासिल कर ली हो.  

दरअसल, खंडवा की सलूजा कॉलोनी में एक बार फिर तब सनसनी मच गई जब एटीएस की टीम सशस्त्र पहरे में आतंकी फैज़ान को उसके ही घर लेकर आई. एक बार फिर घर की तलाशी ली गई और थोड़ी से देर बाद यह टीम फैज़ान को लेकर लौट गई. पिछली बार यह टीम रात के सन्नाटे में आई थी तो इस बार दिन के उजाले में. यहां से उसे जिला अस्पताल मेडिकल चेकअप  के लिए ले जाया गया, यहां डॉक्टर्स ने उसका मेडिकल परीक्षण कर उसे नॉर्मल घोषित किया.

ब्लू जींस और रेड टी-शर्ट पहने फैज़ान का मुंह ढंका हुआ था. उसके दोनों हाथों में हथकड़ी बंधी थी. बावज़ूद उसकी बॉडी लैंग्वेज से उसकी अकड़ दिख रही थी. पुलिस की गाड़ी में बैठते हुए उसने अपने हथकड़ी बंधे हाथ की दो उंगलियों से विक्ट्री का V निशान बनाकर यह मैसेज देने की कोशिश की कि जैसे वो अपने मकसद में कामयाब हो गया हो.  

जिला अस्पताल के डॉक्टर धर्मेंद्र पाटील ने बताया कि फैजान शेख को स्वास्थ्य परीक्षण के लिए लाया गया था. सब कुछ सामान्य था. पुरानी बीमारी छोड़कर सब कुछ नॉर्मल था. उसे स्टोन की बीमारी थी जिसका इलाज होकर उसे राहत मिल गई थी. शरीर पर भी कोई चोट के निशान नहीं हैं.  

अस्पताल के बाद एटीएस की टीम फैज़ान को जिला न्यायालय ले गई जहां उसे विशेष न्यायाधीश एडीजे मनोज कुमार मंडलोई की कोर्ट में पेश किया गया. न्यायालय ने प्रकरण में कार्यवाही के लिए अगली तारीख 22 जुलाई तय की है. कोर्ट के आदेश के बाद उसे खण्डवा की जननायक टंट्या भील जेल भेज दिया गया.

सूत्रों का कहना है कि अब खंडवा से आतंकी को भोपाल जेल भेजा जाएगा. न्यायालयीन प्रक्रिया के तहत किसी भी आरोपी को जहां से गिरफ्तार किया गया हो, वहां की अदालत में पेश किया जाना जरूरी है. पांच दिन की पुलिस रिमांड की अवधि समाप्त होने के बाद आरोपी फैज़ान को जेल रिमांड के लिए ही पेश किया गया था.  

अपर लोक अभियोजक मनीष बरोले ने बताया कि विशेष न्यायालय में फैजान को पेश किया गया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया. इस प्रकरण में कार्यवाही के लिए अगली तारीख 22 जुलाई तय की गई है. न्यायालयीन प्रक्रिया के तहत जेल वारंट बनाकर उसे जेल भेजा गया है.

 

Source : Agency

आपकी राय

1 + 9 =

पाठको की राय